World Environment Day 2022 

World Environment Day 2022: विश्व पर्यावरण दिवस का इतिहास और कैसे हुई थी शुरुआत? 

2022

हर साल आज (5 जून) को ‘World Environment Day' मनाया जाता है।

मनुष्य को जीवित रहने के लिए आवश्यक वायु, जल, भोजन पर्यावरण की ही देन है। इसके बिना पृथ्वी पर जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती हैं। इसलिए जरूरी है कि हम अपने पर्यावरण की रक्षा करें।  

पर्यावरण दिवस के माध्यम से लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया जाता है। मनुष्य के अस्तित्व के लिए हमें पर्यावरण से सभी आवश्यक चीजें मिलती हैं। 

पर्यावरण में प्रदूषण के बढ़ते स्तर के कारण कभी बारिश तो कभी सूखे की स्थिति पैदा हो जाती है। ऐसे में जरूरी है कि लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया जाए। 

1972 में, पर्यावरण प्रदूषण की समस्या को देखते हुए, संयुक्त राष्ट्र ने स्टॉकहोम (स्वीडन) में दुनिया भर के देशों का पहला पर्यावरण सम्मेलन आयोजित किया, जिसमें 119 देशों ने भाग लिया।  

लिया। इस सम्मेलन में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) का जन्म हुआ और प्रत्येक वर्ष 5 जून को पर्यावरण दिवस का आयोजन कर नागरिकों को प्रदूषण की समस्या से अवगत कराने का निर्णय लिया गया।  

हर साल एक नई थीम के साथ मनाया जाता है। इस बार World Environment Day 2022 की थीम ‘Only One Earth’ है जिसका अर्थ है 'केवल एक पृथ्वी'।  

1972 के स्टॉकहोम सम्मेलन का नारा था "केवल एक पृथ्वी"; 50 साल बाद भी यह सच्चाई कायम है - यह ग्रह हमारा एकमात्र घर है।