ध्वनि कविता के प्रश्न उत्तर : NCERT Solutions For Class 8 Hindi Ch 1 Question Answer

ध्वनि कविता के प्रश्न उत्तर : NCERT Solutions For Class 8 Hindi Ch 1 Question Answer

NCERT Solutions For Class 8 Hindi Ch 1 Question Answer

           आज हम आप लोगों को वसंत भाग-3 के कक्षा-8  का पाठ-1 (NCERT Solutions for Class 8 Hindi Ch 1 Vasant Bhag-3) के ध्वनि पाठ का प्रश्न-उत्तर (Dhwani Question Answer) के बारे में बताने जा रहे है जो कि सूर्यकान्त त्रिपाठी ‘निराला’ (Suryakant Tripathi “Nirala”  द्वारा लिखित है। इसके अतिरिक्त यदि आपको और भी NCERT हिन्दी से सम्बन्धित पोस्ट चाहिए तो आप हमारे website के Top Menu में जाकर प्राप्त कर सकते हैं।   

कविता से | Class 8 Hindi Ch 1 Question Answer

प्रश्न 1 : कवि को ऐसा विश्वास क्यों हैं कि उसका अंत अभी नहीं होगा?

उत्तर : कवि को ऐसा विश्वास है क्योंकि उसके मन में अभी भी एक नया जोश और उत्साह है। कवि में अभी भी जीवन जीने का जोश है, उसे अभी बहुत काम करना है। वह चाहते हैं कि युवा पीढ़ी आलस्य पर काबू पाकर सुनहरे भविष्य की ओर बढ़े।

प्रश्न 2 :  फूलों को अनंत तक विकसित करने के लिए कवि कौन-कौन-सा प्रयास करता है?

उत्तर : फूलों को अनंत काल तक उगाने के लिए कवि कलियों की अवस्था से निकालकर उन्हें खिलना चाहता है। कवि का मानना है कि उसके जीवन में वसंत आ गया है। इसलिए वह अपने हाथों के वसंत स्पर्श से कलियों को खिलाएगा। वह फूलों की आंखों से आलस्य दूर कर उन्हें फुर्तीला और जागरूक बनाना चाहता है।

प्रश्न 3 :  कवि पुष्पों की तंद्रा और आलस्य दूर हटाने के लिए क्या करना चाहता हैं?

उत्तर : कवि पुष्पों की तंद्रा और आलस्य को दूर हटाने के लिए कवि उन पर उत्साह और उमंग से भरे हाथ फेंककर पुष्पों को जगाते हैं। कवि अपनी ऊर्जा से युवाओं को प्रेरित करना चाहता है और उनमें नया जोश भरना चाहता है।

यह भी पढ़े-  दीवानों की हस्ती : Diwano Ki Hasti Class 8 Hindi Chapter 4 Question Answer

कविता से आगे | Class 8 Hindi Ch 1 Question Answer

प्रश्न 1 :  वसंत को ऋतुराज क्यों कहा जाता हैं? आपस में चर्चा कीजिये|

उत्तर : वसंत ऋतु को ऋतुओं का राजा कहा जाता है क्योंकि वसंत ऋतु सभी ऋतुओं में सर्वश्रेष्ठ होती है। वसंत ऋतु में न अधिक ठंड होती है और न ही अधिक गर्मी, मौसम बहुत सुहावना हो जाता है। इस ऋतु के आने से पेड़ों पर नई कलियाँ आने लगती हैं, पेड़ों में नए पत्ते आने लगते हैं। आम के पेड़ फूलों से ढके होते हैं और खेत सरसों के फूलों से भरे पीले दिखाई देते हैं। सरसों के पीले फूल ऋतुराज के आगमन की घोषणा करते हैं।  पक्षी चहकने लगते हैं और आकाश भी साफ और नीला हो जाता है। इस ऋतु को आनंद और खुशियों का मौसम भी कहा जाता है। इस मौसम में कई प्रमुख त्योहार मनाए जाते हैं, जैसे- वसंत पंचमी, महा शिवरात्रि, होली आदि।

प्रश्न 2 :  वसंत ऋतू में आने वाले त्योहारों के विषय में जानकारी एकत्र कीजिये और किसी एक त्यौहार पर निबंध लिखिये|

उत्तर : वसंत पंचमी, बैसाखी, महाशिवरात्रि और होली बसंत ऋतु में आने वाले प्रमुख त्योहार हैं।

होली –

बसंत के मौसम में मनाए जाने वाले त्योहारों में होली प्रमुख त्योहार है जो पूरे भारत में मनाया जाता है। होली एक ऐसा रंगारंग त्योहार है, जिसे सभी धर्म के लोग पूरे जोश और मस्ती के साथ मनाते हैं। यह पर्व फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। होली से जुड़ी कई कहानियां हैं। होली मनाने से एक रात पहले होलिका जलाई जाती है और अगले दिन सभी एक दूसरे पर गुलाल, अबीर और तरह-तरह के रंग डालते हैं। इस त्योहार को रंगों का त्योहार भी कहते है।

यह भी पढ़े-  लाख की चूड़ियाँ प्रश्न उत्तर : Lakh Ki Chudiyan Class 8 Hindi Chapter 2 Question Answer

इस महत्वपूर्ण त्योहार को मनाने के पीछे प्रह्लाद और उसकी बुआ होलिका से जुड़ी एक पौराणिक कहानी है।

प्रह्लाद एक पवित्र आत्मा थे जो भगवान विष्णु का भक्त था जबकि उसके पिता हिरण्य कश्यप चाहते थे कि प्रह्लाद सहित सभी उसकी पूजा करें। लेकिन भक्त प्रह्लाद ने यह स्वीकार नहीं किया और उन्होंने हमेशा भगवान विष्णु की पूजा की। इससे क्रोधित होकर उसके पिता ने उसे आग से जलाकर मारने की योजना बनाई। उसने अपनी बहन होलिका को प्रह्लाद को गोद में लेकर आग में बैठने के लिए कहा क्योंकि होलिका को भगवान से वरदान मिला था कि आग उसे जला नहीं सकती, होलिका ने अपने भाई की बात मानी और आग में बैठ गई, लेकिन प्रह्लाद को इस आग से कोई नुकसान नहीं हुआ। बल्कि इस आग में होलिका जलकर राख हो गई। इसी कथा से होली के पर्व का जन्म हुआ।

इस दिन सभी स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय, कार्यालय, बैंक और अन्य सभी संस्थान बंद रहते हैं ताकि लोग एक दूसरे के साथ इस विशेष त्योहार को मना सकें। इस दिन छोटे-बड़े, अमीर-गरीब आदि का भेदभाव मिट जाता है। सभी एक दूसरे पर रंग फेंकते हैं, गुलाल लगाते हैं और गले मिलते हैं। चारों ओर हर्ष, उल्लास और आनंद का वातावरण बन जाता है।

प्रश्न 3 :  “ऋतु परिवर्तन का जीवन पर गहरा प्रभाव पड़ता हैं”- इस कथन की पुष्टि आप किन किन बातों से कर सकते हैं? लिखिए |

उत्तर : ऋतु परिवर्तन का मानव जीवन मैं गहरा प्रभाव पड़ता है। जब ऋतुएँ बदलती हैं तो मौसम  भी बदलती हैं, जिसका प्रभाव मनुष्य के स्वास्थ्य पर भी पड़ता है। उदाहरण के लिए, गर्मी के मौसम में कई जगहों पर अत्यधिक गर्मी होती है और सर्दियों के मौसम में ठंडी हवाएं चलती हैं, जिसे मनुष्य सहन नहीं कर पाते और बीमार हो जाते हैं। बरसात के मौसम में अत्यधिक वर्षा के कारण कई जगहों पर बाढ़ भी आ जाती है, जिससे लोगों के धन का काफी नुकसान होता है।

यह भी पढ़े-  बस की यात्रा प्रश्न उत्तर : Class 8 Hindi Chapter 3 Question Answer

अतः हम कह सकते हैं कि ऋतुओं के परिवर्तन का प्रभाव मानव जीवन पर पड़ता है।

इस पोस्ट के माध्यम से हम वसंत भाग-3 के कक्षा-8  का पाठ-1 (NCERT Solutions for Class 8 Hindi Ch 1 Vasant Bhag-3) के ध्वनि पाठ का प्रश्न-उत्तर (Dhwani Question Answer) के बारे में  जाने जो की  सूर्यकान्त त्रिपाठी ‘निराला’ (Suryakant Tripathi “Nirala” )  द्वारा लिखित हैं । उम्मीद करती हूँ कि आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया होगा। पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले। किसी भी तरह का प्रश्न हो तो आप हमसे कमेन्ट बॉक्स में पूछ सकतें हैं। साथ ही हमारे Blogs को Follow करे जिससे आपको हमारे हर नए पोस्ट कि Notification मिलते रहे।

          आपको यह सभी पोस्ट Video के रूप में भी हमारे YouTube चैनल  Education 4 India पर भी मिल जाएगी।

NCERT Solutions for Class 10 Hindi
NCERT Solutions for Class 9 Hindi
NCERT Solutions for Class 7 hindi
NCERT Solutions for Class 6 Hindi

Scroll to Top