लोकगीत प्रश्न-उत्तर | Lokgeet | Class 6 Hindi Chapter 14 Question Answer

लोकगीत प्रश्न-उत्तर | Lokgeet | Class 6 Hindi Chapter 14 Question Answer

Lokgeet Class 6 Question Answer | NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 14

लोकगीत प्रश्न-उत्तर | Lokgeet Class 6 Question Answer | NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 14

       आज हम आप लोगों को वसंत भाग-1 के कक्षा-6  का पाठ-14 (NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Bhag 1 Chapter 14) के लोकगीत पाठ का प्रश्न-उत्तर (Lokgeet Class 6 Question Answer) के बारे में बताने जा रहे है जो कि भगवतशरण उपाध्याय (Bhagwat Saran Upadhyaya) द्वारा लिखित है। इसके अतिरिक्त यदि आपको और भी NCERT हिन्दी से सम्बन्धित पोस्ट चाहिए तो आप हमारे website के Top Menu में जाकर प्राप्त कर सकते हैं।  

लोकगीत प्रश्न-उत्तर | Lokgeet Class 6 Question Answer

प्रश्न-अभ्यास

निबंध से

प्रश्न 1. निबंध में लोकगीतों के किन पक्षों की चर्चा की गई है? बिंदुओं के रूप में उन्हें लिखो।

उत्तर- इस निबंध में लोकगीतों के निम्नलिखित पक्षों की चर्चा हुई है-

  • लोकगीत प्रिय होते हैं।
  • लोकगीत का त्योहारों और विशेष अवसरों पर महत्त्व
  • लोकगीत और शास्त्रीय संगीत में विभिन्नता
  • लोकगीतों के प्रकार, गायन शैली, राग
  • लोकगीत के लिए सहायक वाद्य यंत्र जैसे- झाँझ, करताल , बाँसुरी की सहायता से गाया जाना
  • लोकगीतों के साथ चलने वाले नृत्य
  • लोकगीतों की भाषा- गाँवों में बोली जाने वाली भाषा
  • लोकगीतों की लोकप्रियता का सम्बन्ध देहातों और गाँवों से
  • लोकगीतों के प्रकार
  • लोकगीत बिना किसी बाजे के मदद के बिना

प्रश्न 2. हमारे यहाँ स्त्रियों के खास गीत कौन-कौन से हैं?

उत्तर- हमारे यहाँ स्त्रियों के खास लोकगीत विभिन्न प्रकार के गाए जाते है। जैसे- विभिन्न त्योहारों पर रास्तों में जाते समय और नदियों में नहाते समय,  विवाह के अवसर पर मटकोड़ और ज्यौनार में, विवाह के अवसर पर संबंधियों को दी जाने वाली प्रेमयुक्त गाली, जन्म आदि के विभिन्न अवसरों पर गाये जाने वाले अलग-अलग गीत जो स्त्रियाँ गति है।  इसके अलावा भोजपुरी में बिदेसिया, बनारस का कजरी, गुजरात का गरबा और ब्रज का रसिया भी स्त्रियों द्वारा गाया जाने वाला गीत है।

प्रश्न 3. निबंध के आधार पर और अपने अनुभव के आधार पर (यदि तुम्हें लोकगीत सुनने के मौके मिले हैं तो) तुम लोकगीतों की कौन-सी विशेषताएँ बता सकते हो?
उत्तर- लोकगीत की विभिन्न विशेषतायें होती है-

  • लोकगीत के माध्यम से हमें अपने गावों की मिट्टी से अपनापन महसूस होता है।
  • लोकगीत पुरुषों तथा स्त्री दोनों के द्वारा गाये जाते है।
  • लोकगीत सामान्य ढोलक और मजीरे की सहायता से गाये जाने वाला गीत है।
  • ये यंत्र आसानी से बाजार में मिल जाते है।
  • इन लोकगीतों को सुनने से हमारे अंदर आनंद और उमंग भर जाता है।
  • ये लोकगीत बहुत ही आसानी और सरलता से गाये जाते है।
  • लोकगीत दल में गाये जाते हैं।

प्रश्न 4. ‘पर सारे देश के… अपने-अपने विद्यापति हैं’-इस वाक्य का क्या अर्थ है? पाठ पढ़कर मालूम करो और लिखो।

उत्तर- इस वाक्य का यह अर्थ यही है कि लोकगीतों की रचना करने वाले विद्यापति दूसरे क्षेत्रों में भी होते हैं। जिस प्रकार पूरब के मिथिला क्षेत्र में मैथिल कोकिल विद्यापति के गीत लोकप्रिय हैं, उसी प्रकार दूसरे क्षेत्र में भी कोई-न-कोई प्रसिद्ध लोकगीत रचनाकार है, जिसके गीतों की उसी क्षेत्र में विशेष प्रसिद्धि रहती है। ये लोकगीत कश्मीर से कन्या कुमारी- केरल तक और काठियावाड़-गुजरात- राजस्थान से उड़ीसा आंध्र-प्रदेश तक अपने-अपने क्षेत्र के अनुसार गाये जाते है। 

यह भी पढ़े-  ऐसे ऐसे प्रश्न-उत्तर | NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 8 | Aise Aise Class 6

अनुमान और कल्पना

प्रश्न 1. क्या लोकगीत और नृत्य सिर्फ गाँवों या कबीलों में ही गाए जाते हैं? शहरों के कौन से लोकगीत हो सकते हैं? इस पर विचार करके लिखो।

उत्तर- लोकगीत और नृत्य ज्यादातर गाँवों और कबीलों में बहुत लोकप्रिय होते हैं। शहरों में इन लोकगीतों को बहुत कम सुना और देखा जा सकता है। शहरों में जो भी लोकगीत गाए जाते हैं वे भी किसी-न-किसी रूप में गाँवों से जुड़े होते हैं क्योंकि शहरों में भी देश के अलग-अलग ग्रामीण क्षेत्रों से लोग जाकर बसे हुए हैं।

प्रश्न 2. ‘जीवन जहाँ इठला-इठलाकर लहराता है, वहाँ भला आनंद के स्त्रोतों की कमी हो सकती है। उद्दाम जीवन के ही वहाँ के अनंत संख्यक गाने प्रतीक हैं।‘ क्या तुम इस बात से सहमत हो ? ‘बिदेसिया’ नामक लोकगीत से कोई कैसे आनंद प्राप्त कर सकता है और वे कौन लोग हो सकते हैं जो इसे गाते-सुनते हैं? इसके बारे में जानकारी प्राप्त करके अपने कक्षा में सबको बताओ।

उत्तर :  हाँ, मैं इस बात से सहमत हूँ कि लोकगीत गाँवों की उन्मुक्त चर्चा के प्रतीक हैं। आप किसी भी लोकगीत से आनंद प्राप्त कर सकते है यदि आप वहाँ की भाषा से थोड़ा भी परिचित हों। जिन लोगों को भोजपुरी के भाषा की जानकारी होती हैं। वे ‘बिदेसिया’ लोकगीत को सुनकर आनंद प्राप्त कर सकते हैं। इन लोकगीतों में रसिक प्रियों और प्रियाओं की बात होती है। इससे परदेशी प्रेमी और करुणा का रस बरसता है।

भाषा की बात

प्रश्न 1. ‘लोक’ शब्द में कुछ जोड़कर जितने शब्द तुम्हें सूझे, उनकी सूची बनाओ। इन शब्दों को ध्यान से देखो और समझो कि इनमें अर्थ की दृष्टि से क्या समानता है। इन शब्दों से वाक्य भी बनाओ, जैसे-लोककला।
उत्तर :

संख्या शब्द वाक्य-प्रयोग
1. लोकहित सभी राजनीतिक दलों को लोकहित का ध्यान रखकर काम करना चाहिए।
2. लोकप्रिय नरेंद्र मोदी हमारे लोकप्रिय नेता है।
3. लोकनृत्य प्रत्येक राज्य का अपना परंपरागत लोकनृत्य होता है।
4. लोकतंत्र भारत, विश्व में सबसे बड़ा लोकतंत्र का उदाहरण है।
5. लोकगीत गावों में गाये जाने वाला प्रसिद्ध गीत लोकगीत है।
6. लोकनीति सही लोकनीति देश में समाज का विकास करती है।
7. लोकवाद्य लोकवाद्य एक यंत्र है जो लोकगीत गाते समय बजाया जाता है।
8. लोकमंच कलाकारों को अपनी कला दिखाने का माध्यम लोकमंच है।

प्रश्न 2. बारहमासा गीत में साल के बारह महीनों का वर्णन होता है। नीचे विभिन्न अंकों से जुड़े कुछ शब्द दिए गए हैं। इन्हें पढ़ो और अनुमान लगाओ कि इनका क्या अर्थ है और वह अर्थ क्यों है? इस सूची में तुम अपने मन से सोचकर भी कुछ शब्द जोड़ सकते हो-

यह भी पढ़े-  चाँद से थोड़ी सी गप्पें के प्रश्न उत्तर | NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 4 | Chand Se Thodi Si Gappe
इकतारा सरपंच चारपाई सप्तर्षि अठन्नी
तिराहा दोपहर छमाही नवरात्र चौराहा

 

उत्तर :

शब्द अर्थ कारण
इकतारा एक तार वाला वाद्य यंत्र यह शुरुआत में भगवान को स्मरण करने वाला यंत्र है जिसमें एक तार के सहारे अलग-अलग संगीत बजते हैं।
सरपंच पाँच बुजुर्गों का समूह प्रमुख सरपंच का कार्य गाँव में होने वाले वाद-विवाद को बिना कचहरी के सुलझा देना।
चारपाई चार पाँव वाली घाट चारपाई का प्रयोग गाँव में लोग सोने के लिए करते है। यह एक प्रकार का बेड है।
सप्तर्षि सात ऋषियों का समूह वेद एवं हिन्दू धर्मों में सात ऋषियों को सप्तर्षि कहा गया है।
अठन्नी एक रुपये का आधा यह एक सिक्का था जिसकी कीमत 50 पैसे थी।
तिराहा जहाँ तीन रास्ते मिलते है जहाँ तीन रास्ते एक साथ एक जगह पर मिलते है तो उन्हें तिराहा कहते है।
दोपहर दिन में 12 बजे से 4 बजे के बीच का समय दो पहर के बीच का समय दोपहर कहलाता है।
छमाही छः महीने का समय
नवरात्र नौ रात्रियों के समूह ये वह नौ दिन है जब माँ दुर्गा की पूजा की जाती है।
चौराहा जहाँ चार रास्ते मिलते है जब चार रास्ते एक साथ एक जगह पर मिलते है तो उन्हें चौराहा का नाम देते है।

 

प्रश्न 3. को, में, से आदि वाक्य में संज्ञा का दूसरे शब्दों के साथ संबंध दर्शाते हैं। ‘झाँसी की रानी’ पाठ में तुमने का के बारे में जाना। नीचे ‘मंजरी जोशी’ की पुस्तक ‘भारतीय संगीत की परंपरा’ से भारत के एक लोकवाद्य का वर्णन दिया गया है। इसे पढ़ो और रिक्त स्थानों में उचित शब्द लिखो-

  • तुरही भारत के कई प्रांतों में प्रचलित है। यह दिखने …….. अंग्रेज़ी के एस या सी अक्षर ………… तरह होती है। भारत ………. विभिन्न प्रांतों में पीतल या काँसे ………. बना यह वाद्य अलग-अलग नामों ……… जाना जाता है। धातु की नली ……… घुमाकर एस ………… आकार इस तरह दिया जाता है कि उसका एक सिरा संकरा रहे दूसरा सिरी घंटीनुमा चौड़ा रहे। फूँक मारने ……… एक छोटी नली अलग ………. जोड़ी जाती है। राजस्थान ……… इसे बर्गू कहते हैं। उत्तर प्रदेश ………. यह तूरी, मध्य प्रदेश और गुजरात ……….. रणसिंघा और हिमाचल प्रदेश ………… नरसिंघा …………. नाम से जानी जाती है। राजस्थान और गुजरात में इसे काकड़सिंघी भी कहते हैं।

उत्तर- तुरही भारत के कई प्रांतों में प्रचलित है। यह दिखने में अंग्रेजी के एस या सी अक्षर की तरह होती है। भारत के विभिन्न प्रांतों में पीतल या काँसे का बना यह वाद्य अलग-अलग नामों से जाना जाता है। धातु की नली को घुमाकर एस का आकार इस तरह दिया जाता है कि उसका एक सिरा संकरा रहे और दूसरा सिरा घंटीनुमा चौड़ा रहे। फूँक मारने को एक छोटी नली अलग से जोड़ी जाती है। राजस्थान में इसे बर्गू कहते हैं। उत्तर प्रदेश में यह तूरी, मध्य प्रदेश और गुजरात में रणसिंघा और हिमाचल प्रदेश में नरसिंघा के नाम से जानी जाती है। राजस्थान और गुजरात में इसे काकड़सिंधी भी कहते हैं।

यह भी पढ़े-  Jo Dekhkar Bhi Nahi Dekhte | NCERT Solutions for Class 6 Hindi Chapter 11

भारत के मानचित्र में

प्रश्न – भारत के नक्शे में पाठ में चर्चित राज्यों के लोकगीत और नृत्य दिखाओ।

उत्तर :

राज्य लोकगीत नृत्य
बिहार कजरी, बिदेसिया, चैता, सावन जट-जटिन
पंजाब माहिया झूमर/गिद्दा
बुंदेलखंड आल्हा मोनिया नृत्य
गुजरात माहिया गरबा
पहाड़ी इलाके पहाड़ी गीत समूह नृत्य
बंगाल बाउल/भतियाली छाऊ
उत्तर-प्रदेश चैता/कजरी, बिरहा, बारहमासा चरकुला

कुछ करने को

प्रश्न 1. अपने इलाके के कुछ लोकगीत इकट्ठा करो। गाए जाने वाले मौकों के अनुसार उनका वर्गीकरण करो।
उत्तर-

  • कजरी –सावन के महीने में गाया जाने वाला गीत।
  • सोहर –जन्म के समय गाये जाने वाला गीत।
  • माँ का पचरा – किसी भी शुभ काम में गाये जाने वाला गीत।

प्रश्न 2. जैसे-जैसे शहर फैल रहे हैं और गाँव सिकुड़ रहे हैं, लोकगीतों पर उनका क्या असर पड़ रहा है? अपने आसपास के लोगों से बातचीत करके और अपने अनुभवों के आधार पर एक अनुच्छेद लिखो।

उत्तर- धीरे-धीरे गाँव के लोगों का शहर की तरफ़ पलायन कर रहे है। वे अपने साथ अपने लोकगीतों को भी ला रहे हैं। ये लोकगीत जब गाँव के लोगों द्वारा गाया जाता है तो शहरी लोगों को काफ़ी आकर्षित करता हैं। शहरी लोगों को ये लोकगीत सामान्य फ़िल्मी और गैर-फ़िल्मी गीतों से अलग हटकर आनंद देते हैं। अब अधिकतर सभा और समारोहों में लोकगीतों की धूम मची रहती है।

प्रश्न 3. रेडियो और टेलीविज़न के स्थानीय प्रसारणों में एक नियत समय पर लोकगीत प्रसारित होते हैं। इन्हें सुनो और सीखो।

उत्तर- छात्र इन्हें सुनकर सीखने का प्रयास स्वयं करें।

       इस पोस्ट के माध्यम से हम वसंत भाग-1 के कक्षा-6  का पाठ-14 (NCERT Solutions for Class 6 Hindi Vasant Bhag 1 Chapter 14) के लोकगीत पाठ का प्रश्न-उत्तर (Lokgeet Class 6 Question Answer) के बारे में  जाने जो की भगवतशरण उपाध्याय (Bhagwat Saran Upadhyaya) द्वारा लिखित हैं । उम्मीद करती हूँ कि आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आया होगा। पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले। किसी भी तरह का प्रश्न हो तो आप हमसे कमेन्ट बॉक्स में पूछ सकतें हैं। साथ ही हमारे Blogs को Follow करे जिससे आपको हमारे हर नए पोस्ट कि Notification मिलते रहे।

          आपको यह सभी पोस्ट Video के रूप में भी हमारे YouTube चैनल  Education 4 India पर भी मिल जाएगी।

NCERT / CBSE Solution for Class-9 (HINDI)

NCERT / CBSE Solution for Class-10 (HINDI)

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top